Shopping Cart
Whats app Us Now
Free: +91-9887917255

METAL ARTIFACTS - धातु शिल्पकृति

ATTHA SILVER PAYAL (80 gm) - अठ्ठा चांदी पायल (80 gm) - 1 SET-BIS HALLMARKED

|| जय चक्रधारी ||चाँदी पायल:-  पुनः आज बात करेंगे बहुत कमाल की चीज जो कि 16 श्रृंगार में महत्वपूर्ण रूप से जानी जाती है - पायल | पायल भारत देश में प्रत्येक स्त्री अपने पैर में धारण करती है | क्योंकि मान्यता यह है और वैज्ञानिक कारण भी यह है पैरों में ही पायल सर्वाधिक काम करती है सर्वाधिक कारगर होती है | इसका मूल कारण है - की यह एक प्रकार के इंस्ट्रूमेंट की भाँती काम करती है, जमीन से जितनी आवश्यक ठंडक शरीर को चाहिए कि वह धारण करता को प्रदान करती है | घर का सारा बोझ एक घर की स्त्री पर होता है, प्रत्येक घर के सदस्य को संभालती है इसलिए उनका स्वस्थ रहना बहुत आवश्यक है, और संभवतः इसीलिए पायल अति आवश्यक इंस्ट्रूमेंट उनके लिए साबित होता है | अब बात आती है कि कैसी पायल पहनी जाए ? तो शर्त इसमें केवल इतनी है कि पायल की शुद्धता 99% तो होनी ही चाहिए| तब वह काम करने में सक्षम हो जाती है | वर्तमान में भारत में यदि हम सब एक होकर घर की स्त्री को ऐसे यन्त्र पहनाएंगे तो प्रत्येक घर की स्त्री स्वस्थ रहेगी | यह भारत देश है जहां हमारे ऋषि वैज्ञानिकों ने एक से बढ़कर एक मनुष्य जाति को उत्तम स्वास्थय रखने के लिए विभिन्न प्रकार के उपायों का संयोजन किया है और उनका व्यावहारिक रूप में पालन करवाकर आस्था से धर्म से जोड़कर उसको प्रस्तुत किया है, और इनके कारण बहुत गहरे है, यह कान्वेंट कभी नहीं सीखा सकता बच्चो को स्कूलों में | आप भी आनंद लीजिए भारत की इस दमदार संस्कृति का ||| ॐ का झंडा ऊँचा रहे || ..

₹7,600 Ex Tax: ₹7,379

COMPLETE HAWAN SET - पूर्ण हवन सेट

..

₹9,450 Ex Tax: ₹8,008

COPPER COIN (11 PIECE) - ताम्बा सिक्के (11 PIECE)

|| जय चक्रधारी ||ताम्बा सिक्के:-ताम्रम, त्रयंबकम, रविप्रिया, भानु, लोहितस्याम इत्यादि नाम से पहचाने जाने वाली धातु - ताम्बा, बेहद कारगर है जिसमें वह - ज्योतिषीय लाभ भी देने में सक्षम है और सेहत की दृष्टिकोण से भी बहुत कारगर है | जहाँ मलेच्छ ताम्बा आपको बीमार करेगा, वही नेपालिया ताम्बा आपकी सेहत में चार चाँद लगा देगा | हमने बहुत लोगो को पहना कर इस आयुर्वेदिक शोधित कड़े का परिक्षण किया - तो लगभग सभी लोगों से सारात्मक उत्तर ही प्राप्त हुआ है |१. यह आत्मविश्वास बढ़ने में सक्षम है |२. पाचन तंत्र की शक्ति को बढ़ने में लाभदायक है |३. सर्दी जुखाम और बुखार से रक्षा करने में बहुत ही सक्षम है |४. पित्त एवं कफ को शांत करता है |५. नेत्र ज्योति में भी सुधार करता है |COPPER COIN:-Here we bring Pure Copper Coin for you. This bangle is capable to give you astrological benefits and health benefits. This copper bangle is made as per Ancient Indian Culture directed as per Ayurveda.Copper has two varieties named - Mallech and Nepaliya. Mallech copper bangle cause severe vomittings, is very hard, and can never be used for any medicinal purpose. Impure copper is more dangerous just like poison and it have 8 blemishes whereas Nepaliya copper works like nectar, A process is called AMRITKARNA by which purification of copper is done and then it becomes ready for usage on humans. 1. This alleviate Pitta and Kapha dosha.2. Help to cure ones digestion power.3. Cures infected liver, obesity, loss appetite, piles, pthisis and anemia.4. It is good for eyes.5. Able to increase confidence at high level.|| ॐ का झंडा ऊँचा रहे || ..

₹551 Ex Tax: ₹535

COPPER NAAG NAGIN JODA - ताम्बा नाग नागिन जोड़ा

|| जय चक्रधारी ||ताम्बा नाग नागिन जोड़ा :-ताम्रम, त्रयंबकम, रविप्रिया, भानु, लोहितस्याम इत्यादि नाम से पहचाने जाने वाली धातु - ताम्बा, बेहद कारगर है जिसमें वह - ज्योतिषीय लाभ भी देने में सक्षम है और सेहत की दृष्टिकोण से भी बहुत कारगर है | जहाँ मलेच्छ ताम्बा आपको बीमार करेगा, वही नेपालिया ताम्बा आपकी सेहत में चार चाँद लगा देगा | हमने बहुत लोगो को पहना कर इस आयुर्वेदिक शोधित कड़े का परिक्षण किया - तो लगभग सभी लोगों से सारात्मक उत्तर ही प्राप्त हुआ है |१. यह आत्मविश्वास बढ़ने में सक्षम है |२. पाचन तंत्र की शक्ति को बढ़ने में लाभदायक है |३. सर्दी जुखाम और बुखार से रक्षा करने में बहुत ही सक्षम है |४. पित्त एवं कफ को शांत करता है |५. नेत्र ज्योति में भी सुधार करता है | ६. ताम्बे के नाग नागिन जोड़े को पानी में बहाने से पानी भी शुद्ध होता है COPPER NAAG NAGIN JODA:-Here we bring Pure Copper bangle for you. This bangle is capable to give you astrological benefits and health benefits. This copper bangle is made as per Ancient Indian Culture directed as per Ayurveda.Copper has two varieties named - Mallech and Nepaliya. Mallech copper bangle cause severe vomittings, is very hard, and can never be used for any medicinal purpose. Impure copper is more dangerous just like poison and it have 8 blemishes whereas Nepaliya copper works like nectar, A process is called AMRITKARNA by which purification of copper is done and then it becomes ready for usage on humans. 1. This alleviate Pitta and Kapha dosha.2. Help to cure ones digestion power.3. Cures infected liver, obesity, loss appetite, piles, pthisis and anemia.4. It is good for eyes.5. Able to increase confidence at high level 6.Water is also purified by draining the serpent pairs of copper in water.|| ॐ का झंडा ऊँचा रहे || ..

₹201 Ex Tax: ₹195

COPPER TONG - ताम्बा चिमटा

..

₹550 Ex Tax: ₹491

COPPER WATER PURIFIER - ताम्बा जल शुद्धि यंत्र (7 PIECE)- 1 SET

|| जय चक्रधारी ||ताम्बा जल शुद्धि यन्त्र:-ताम्रम, त्रयंबकम, रविप्रिया, भानु, लोहितस्याम इत्यादि नाम से पहचाने जाने वाली धातु - ताम्बा, बेहद कारगर है जिसमें वह - ज्योतिषीय लाभ भी देने में सक्षम है और सेहत की दृष्टिकोण से भी बहुत कारगर है | जहाँ मलेच्छ ताम्बा आपको बीमार करेगा, वही नेपालिया ताम्बा आपकी सेहत में चार चाँद लगा देगा | हमने बहुत लोगो को पहना कर इस आयुर्वेदिक शोधित कड़े का परिक्षण किया - तो लगभग सभी लोगों से सारात्मक उत्तर ही प्राप्त हुआ है |१. यह आत्मविश्वास बढ़ने में सक्षम है |२. पाचन तंत्र की शक्ति को बढ़ने में लाभदायक है |३. सर्दी जुखाम और बुखार से रक्षा करने में बहुत ही सक्षम है |४. पित्त एवं कफ को शांत करता है |५. नेत्र ज्योति में भी सुधार करता है |COPPER WATER PURIFIER:-Here we bring Pure Copper bangle for you. This bangle is capable to give you astrological benefits and health benefits. This copper bangle is made as per Ancient Indian Culture directed as per Ayurveda.Copper has two varieties named - Mallech and Nepaliya. Mallech copper bangle cause severe vomittings, is very hard, and can never be used for any medicinal purpose. Impure copper is more dangerous just like poison and it have 8 blemishes whereas Nepaliya copper works like nectar, A process is called AMRITKARNA by which purification of copper is done and then it becomes ready for usage on humans. 1. This alleviate Pitta and Kapha dosha.2. Help to cure ones digestion power.3. Cures infected liver, obesity, loss appetite, piles, pthisis and anemia.4. It is good for eyes.5. Able to increase confidence at high level || ॐ का झंडा ऊँचा रहे || ..

₹550 Ex Tax: ₹534

GOLD MANG TILAK ( 4 gm) - स्वर्ण मांग तिलक -99.9% PURE (4 gm)

|| जय चक्रधारी ||स्वर्ण मांग तिलक:- सुवर्णम,सोना,अग्निवीर्य,कनक,तापनीय,हेम, विश्व में अति प्राचीन काल से ही सोना सर्वाधिक विख्यात है,ऋग्वेद में भी स्वर्ण का अनेक स्थानों पे वर्णन है। ऐसा वर्णन मिलता है की जल के साथ अग्नि के मैथुन क्रम में अग्निवीर्य क्षरण हो गया और उसी से स्वर्ण की उत्तपत्ति हुई। महाभारत अदि पुराणों में स्वर्णभूषण धारण करने की बहु प्रचलित परंपरा थी। अतः कहा जा सकता है की हज़ारो वर्षो से स्वर्ण सर्वाधिक आकर्षक एवं अतिउपयोगी द्रव्य है।स्वर्ण के गुण:-१. यह लक्ष्मीप्रद है।२. स्वर्ण बुद्धि,कान्ति एवं स्मृतिप्रद है। ३. स्वर्ण से वीर्य बल बढ़ता है। ४ स्वर्ण के उपयोग से ख़राब जीवाणु का नाश होता है।  Gold maang tilak:-Gold is most famous in the world since long time, Suvarnam, Sona, Agnivirya, Kanaka, Tapaniya, Hem.Rigveda also describes gold in many places. It is described in ancient texts that Agnirvya occurred in the mating sequence of fire with water and from that, gold originated.In the Mahabharata, etc., the Puranas had a very popular tradition of wearing gold jewelery.Therefore, it can be said that from thousands of years, gold is the most attractive and superlative substance.Benefits of Gold: -1. It gives wealth.2. Gold increases intelligence, memory and health .3. Gold increases semen strength.4.Bad bacteria are destroyed by the use of gold.  || ॐ का झंडा ऊँचा रहे || ..

₹29,500 Ex Tax: ₹28,641

Handmade Morchang - मोरचंग

।। जय चक्रधारी ।। आइये आज आपका परिचय करवाते हैं एक ऐसे संगीत यन्त्र से - जो काफी पुराना हैं । भारत का हिस्सा, भारतीयता का हिस्सा है । इसके माध्यमसे - ब्लड प्रेशर कण्ट्रोल किया जा सकता है, इसके माध्यम से तनाव को दूर किया जा सकता है, शारीरिक ऊर्जा को भी जागृत किया जा सकता है । विशेष बात इसके होने वाले कम्पन के माध्यम से - पारलौकिक शक्तियों से भी संपर्क किया जा सकता है । इस वादन यन्त्र का उल्लेख - भगवन कृष्णा की आरती में भी देखने को आता है जिसके पंक्ति इस परककर है - आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्णमुरारी .... कनकमय मोर मुकुट बिलसै, देवता दरसन को तरसैं। गगन सों सुमन रासि बरसै; बजे मुरचंग, मधुर मिरदंग, ग्वालिन संग .. उपरोक्त पंक्ति में जो नाम है - "मुरचंग" यही यह यन्त्र है । आज स्तिथि यह है, के इस इस्ट्रूमेंट की खोज करने का नामकरण - अँगरेज़ करने लग गए हैं के यह उनकी खोज है । एवं स्तिथियाँ इतनी गंभीर है - के भारत के लोगों को इसका कुछ अता पता ही नहीं । हमारे मुनियो की यह खोज - जिसकी देख रेख आज कुछ ही लोग कर रहे हैं । इसे आज भी - भारत के लोहार ही बनाते हैं, जिसकी ध्वनि काफी उत्कृष्ट होती है । जिसमे कम्पन के माध्यम से ध्वनि को वातावरण में प्रसारित किया जाता है । इसे संजो के रखने का श्रेय आज भी - भारत में 2 समुदायों को जाता है - जिसमे एक तो वे लोहार हैं जो इसे बनाने का कार्य करते हैं, दूसरी और इसके संगीत के माध्यम से - लोगो को प्रसन्न करने का श्रेय जाता है -लोक गायक व वादक- राजस्थान के लांगा-मांगणियारों को । इसी यन्त्र से माना जाता है - के Mouth Organ नामक संगीत यन्त्र की खोज हुई है । तो यह है आपकी संस्कृति जो आपको सोचने पर मजबूर कर देती हैं, के हम संसार की सर्वश्रेष्ठ सभ्यता में जन्मे हैं जहाँ ऐसे कितने ही रहस्य आज भी प्रकट होने को आतुर हैं । यदि आपके पास भी ऐसी कोई जानकारी है तो उसे हमारे अपने ही, अपनों के लिए सामने लाने का प्रयत्न करें जिससे सीने का गौरव और भी ऊँचा होगा । ।। ॐ का झंडा ऊँचा रहे ।।..

₹1,200 Ex Tax: ₹1,200

Showing 1 to 9 of 25 (3 Pages)